Detection of computer problems by beep - RJ Online Tech

Sponsor

Amazon Marketplace

Friday, February 1, 2019

Detection of computer problems by beep

Detection of computer problems by beep
Computer tricks, computer problems, computer problems by beep.

बीप द्वारा कम्प्यूटर समस्याओं का पता लगाने


क्या आपके कंप्यूटर में भी अक्सर खराबी आती रहती है और आप उसकी खराबी का कारण नहीं समझ पाते? दरअसल हमारा कंप्यूटर हमें यह जानकारी देने की कोशिश करता है कि उसे हुआ क्या है। यह अलग बात है कि हम उसके संकेत समझ नहीं पाते। अगर आप कंप्यूटर द्वारा दिए जाने वाले संकेतों को समझने लगेंगे तो शायद आपको भी तब तक कंप्यूटर मेकेनिक को घर बुलाने की जरूरत नहीं पडे़गी जब तक कि उसमें आई खराबी ज्यादा बड़ी न हो।


  • मोटे तौर पर कंप्यूटर की समस्या को तीन भागों में बांटा जा सकता है।
- अगर कंप्यूटर स्टार्ट नहीं हो रहा है, तो हो सकता है उसमें पावर ही नहीं आ रही हो।
- अगर वह स्टार्ट होने के बाद अजीब-सी आवाज निकालकर रुक जाता है तो समस्या किसी हार्डवेयर से जुड़ी है।
- अगर वह विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के शुरुआती ग्राफिक तक पहुंच जाता है लेकिन आगे नहीं बढ़ता तो समस्या विंडोज एक्सपी, विंडोज विस्टा, विंडोज 7 आदि ऑपरेटिंग सिस्टम की है।
इनमें से पहली समस्या होने पर आपको कंप्यूटर की पावर सप्लाई (जिसे एसएमपीएस कहा जाता है) को बदलवाने की जरूरत है। समस्या दूसरे नंबर की है तो उसका पता लगाने के लिए थोड़ा-सा विश्लेषण करने की जरूरत है। तीसरे नंबर की समस्या होने पर किसी विंडोज या फिर किसी डिवाइस ड्राइवर (हार्डवेयर को ऑपरेट करने के लिए इस्तेमाल होने वाला कोड) को दोबारा इंस्टाल करना पड़ सकता है।
कंप्यूटर्स को स्टार्ट करने के बाद शुरू में 'पावर ऑन सेल्फ टेस्ट' (पोस्ट) का प्रोसेस होता है जिसमें आपके सिस्टम के ज्यादातर हार्डवेयर्स को चेक किया जाता है। अगर कोई छोटी-मोटी समस्या है तो कंप्यूटर चल पड़ता है लेकिन किसी अहम पार्ट में दिक्कत होने पर वह पोस्ट से आगे नहीं बढ़ता।
हालांकि इसी दौरान वह किसी-न-किसी तरह की बीप की आवाज देकर खराब हार्डवेयर के बारे में संकेत दे देता है। जब-जब भी आपका कंप्यूटर खराब हुआ होगा, आपने देखा होगा कि वह स्टार्ट होते समय आम सिंगल बीप की बजाए कुछ अलग ही आवाज निकालता है। यही आवाज कंप्यूटर की समस्या को ठीक करने में मदद करती है। आईबीएम पीसी या आईबीएम कम्पैटिबल पीसी द्वारा निकाले जाने वाले सामान्य बीप कोड इस तरह हैं -


  • बीप कोड- कोई बीप नहीं, समस्याः
पावर नहीं है, बिजली का तार ढीला है या फिर तार शॉर्ट हो गया है। रिप्लेसमेंट खर्च - जीरो से लेकर 500 रुपये तक। बीप कोडः एक छोटी बीप, कंप्यूटर ठीकठाक है, कोई समस्या नहीं है। बीप कोडः दो छोटी बीप समस्याः पोस्ट के दौरान समस्या पाई गई है (हो सकता है सीएमओएस सेटिंग से जुड़ा हो) ब्यौरे के लिए कंप्यूटर स्क्रीन देखें। खर्चः जीरो। बीप कोडः एक लंबी और एक छोटी बीप समस्याः मदरबोर्ड में कोई समस्या है। रिप्लेसमेंट खर्च : 2,000 से 6,000 रुपये के बीच, मदरबोर्ड की कीमत पर निर्भर। बीप कोडः एक लंबी और दो छोटी बीप समस्याः सीजीए-मोनो डिस्प्ले कार्ड की समस्या है। रिप्लेसमेंट खर्चः 500 से 600 रुपये। बीप कोडः एक लंबी और तीन छोटी बीप समस्याः ईजीए डिस्प्ले कार्ड की समस्या है। रिप्लेसमेंट खर्चः 800 रुपये या ज्यादा (कार्ड के ब्रांड और फीचर्स पर निर्भर)।
बीप कोडः तीन लंबी बीप समस्याः की-बोर्ड से जुड़ी समस्या। रिप्लेसमेंट खर्चः 300 रुपये या ज्यादा।
बीप कोडः लगातार लंबी-लंबी बीप समस्याः सीपीयू में लगी रेम ढीली है या फिर खराब हो गई है। खर्चः शून्य से लेकर 1,200 रुपये तक।
बीप कोडः लगातार तेज और हल्की बीप बजती रहे समस्याः सीपीयू बहुत गर्म हो रहा है। शायद सीपीयू को ठंडा रखने के लिए लगा पंखा खराब है या फिर सीपीयू ही बदलने की जरूरत है। रिप्लेसमेंट खर्चः 100 रुपए (पंखा) से लेकर 5,000 से 6,000 रुपये के बीच।
कंप्यूटर्स में बीप की आवाज से यही संकेत मिलते हैं कि कंप्यूटर की सामान्य समस्याओं का पता किसी विशेषज्ञ के बिना आप खुद भी लगा सकते हैं। ज्यादातर कंप्यूटर्स में इन आवाजों का यही मतलब है लेकिन बुनियादी रूप से यह बात कंप्यूटर में लगी BIOS (बेसिक इनपुट आउटपुट सिस्टम) और मदरबोर्ड के ब्रांड पर निर्भर करती हैं। कुछ ब्रांड्स में इन आवाजों के अलग मतलब हो सकते हैं जिन्हें उनके साथ आए डॉक्युमेंटेशन या फिर उनकी वेबसाइट्स पर देखा जा सकता है।

No comments:

Post a Comment